Monday, June 30, 2008

Yahoo Answers ने बना दिया टॉप-कंटरीब्यूटर

मैं पिछले लगभग दो-हफ्ते से ब्लागिंग से दूर रहा ...क्योंकि मैं याहू आंसर्ज़ में जवाब देने में व्यस्त था। बस, ऐसे ही जैसे कभी भी ब्लागिंग की धुन सवार हो जाती है , बस कुछ दिन yahoo! answers का भूत सवार रहा । इसलिये मुझे पिछले दिनों जब भी समय मिलता मैं याहू पर जवाब देने के लिये बैठ जाता। मुझे इन प्रश्नों का जवाब देने के दौरान यह तो पता चल ही गया कि वैस्टर्न -वर्ल्ड में सब कुछ इतना rosy नहीं है, उन लोगों की समस्यायें भी हम लोगों जैसी ही हैं ...और कईं कईं केसों में तो हम से भी कहीं बदतर। बस, यह बड़ा मिक्सड़ सा अनुभव रहा । वैसे मैं अपने याहू आंसर्ज़ पेज का लिंक नीचे दे रहा हूं---आप क्लिक कीजिये और फिर मुझे भी फीड-बैक दीजिये।

in.answers.yahoo.com/my/profile?show=AA10015966

हिंदी ब्लागिंग के पितामहों के लिये मेरा एक प्रश्न है कि याहू आंसर्ज़ विश्व की बहुत सी भाषाओं में उपलब्ध है....लेकिन आप को इसे हिंदी में भी लाने के लिये कुछ करना होगा.। वैसे एक रोचक बात बता रहा हूं कि पंद्रह दिन पहले जब मैंने इस पर हिंदी में लिख कर जवाब देने शुरू किये तो हिंदी बढ़िया इस पर आने लगी। मुझे लगा कि यार, यह तो बढ़िया है ...अपने देशवासियों से हिंदी के उत्तरों के माध्यम से जुड़ने का एक बढ़िया तरीकाहै यह. लेकिन यह क्या, अभी मैं आप लोगों के साथ यह सब शेयर करना ही चाह रहा था कि मुझे याहू, आंसर्ज़ से एक मेल आया कि हम आप का एक जवाब डिलीट कर रहे हैं जिस का कारण यह दिया गया कि आप की भाषा गलत है (यानि हिंदी है। )......सो, मुझे बहुत दुख हुया । सोचा, आप से यह सब तो बाद में शेयर करूंगा.....लेकिन मैं उस के बाद अंग्रेज़ी में ही जवाब देता गया । वैसे यह याहू आंसर्ज़ का अनुभव है बड़ा रोमांचक। आप सब भी इस में कूद पढ़िये।

लेकिन असली बात बतानी तो मैं भूल ही गया कि आज मैं बहुत खुश हूं .....कारण ? .......वैसे कारण कोई इतना महान भी नहीं है....बस इतना सा कारण है कि आज याहू, आंसर्ज़ वालों ने इस नाचीज़ के नाम पर टॉप-कंटरीब्यूटर ( top contributor) की मोहर लगा दी है।